कम लागत में अधिक आय

कम लागत में अधिक आय

वर्मी कम्पोस्ट जैविक खेती में वर्मी कम्पोस्ट उपयोगी खाद के रूप में आमदनी का उत्तम जरिया बन गया है| इस के तहत गोबर व घरेलू कचरे को कहस किस्म के केंचुओं द्वारा इस्तेमाल करा के…

Read More
फल-सब्जियों की खेती से करें हर महीने लाखों की कमाई

फल-सब्जियों की खेती से करें हर महीने लाखों की कमाई

बढ़ती महंगाई और बेरोजगारी के दौर में आज के समय में फल और सब्जी के धंधे से लाखों कमाया जा सकता है। यदि वैज्ञानिकों के सलाह से जैविक खेती किया जाये तो यह मुनाफे का…

Read More
गाजरघास से कंपोस्ट बनाएँ, कचड़े से सोना ऊगाएँ

गाजरघास से कंपोस्ट बनाएँ, कचड़े से सोना ऊगाएँ

गाजरघास, जिसे कांग्रेस घास, चटक चांदनी, कड़वी घास वगैरह नामों से भी जाना जाता है, न केवल किसानों के लिए, बल्कि इन्सानों, पशुओं, आबोहवा व जैव विविधता के लिए एक बड़ा खतरा बनती जा रही…

Read More
त्वचा को नई चमक दे सकता है संतरा

त्वचा को नई चमक दे सकता है संतरा

संतरा फल के साथ साथ हमारी सेहत का रखवाला भी है। इसमें प्रचुर मात्रा में विटामिन डी होता है जो हमारी शरीर के लिए बेहद जरुरी है। संतरा को घर के बाड़ी में भी उगाया…

Read More
कई बीमारियों का रामबाण इलाज है गेंदे के फूल

कई बीमारियों का रामबाण इलाज है गेंदे के फूल

भारतीय पुष्पों में गेंदा अत्यंत लोकप्रिय है एवं इसे सरलता से उगाया भी जा सकता है। कम समय में ज्यादा फूल खिलने, इसके कई रंगों में उपलब्ध होने तथा जल्दी न खराब होने एवं सभी…

Read More
स्वाद में लजीज पैरा फुटु आदिवासी अंचलों से  अब फाइव स्टार होटलों तक

स्वाद में लजीज पैरा फुटु आदिवासी अंचलों से अब फाइव स्टार होटलों तक

आदिवासी अंचलों में खाएं जाने वाला पैरा फुटु (मशरूम) बेहतरीन स्वाद की बदौलत फाइव स्टार होटलों में लजीज व्यंजनों के रूप में परोसा जाता है। प्रोटीन का बढ़िया स्रोत यह व्यंजन अब आमजनों में तेजी…

Read More
किसान गोमूत्र और गोबर से होंगे मालामाल

किसान गोमूत्र और गोबर से होंगे मालामाल

हिमाचल प्रदेश के किसानों को मालामाल होने का सुनहरा अवसर मिला है. राज्य सरकार ने किसानों के लिए एक योजना का चलाई है, जिससे किसान अपनी आय को दोगुनी कर सकते है. दरअसल, सरकार ने…

Read More
कृषि भूमि उपयोग का तकनीकी स्तर

कृषि भूमि उपयोग का तकनीकी स्तर

प्रकृति ने अपनी उदारता से मनुष्य को विविध आवश्यकताएँ पूरी करने के लिये विभिन्न साधनों का नि:शुल्क उपहार दिया है। प्राकृतिक परिवेश से मनुष्य को विभिन्न उपयोगों के लिये प्राप्त इन प्राकृतिक नि:शुल्क उपहारों को…

Read More